उत्तल लेंस और अवतल लेंस में अंतर,परिभाषा | Difference Between Convex And Concave Lens

आप इस पोस्ट के द्वारा उत्तल लेंस और अवतल लेंस में अंतर को समझ सकते हैंं।

आज topperhub.com आपके लिये विज्ञान की शाखा भौतिक विज्ञान का एक महत्वपूर्ण टॉपिक उत्तल लेंस और अवतल लेंस में अंतर लेकर आये हुए है।

उत्तल लेंस और अवतल लेंस में अंतर को पढ़ने के लिए यहाँ पर क्लिक करें।

उत्तल लेंस और अवतल लेंस में अंतर जानने से पहले हमें ये समझना होगा कि लेंस किसे कहते है? उत्तल लेंस किसे कहते है? अवतल लेंस किसे कहते है। उत्तल लेंस और अवतल लेंस में अंतर, उत्तल लेंस तथा अवतल लेंस में अंतर स्पष्ट करें,उत्तल लेंस की पहचान, उत्तल और अवतल लेंस के उपयोग, अवतल लेंस के उपयोग करता है, उत्तल लेंस और अवतल लेंस के उपयोग, उत्तल लेंस और अवतल लेंस में अंतर बताएं।

लेंस – परिभाषा और प्रकार, उत्तल और अवतल लेंस में अंतर , हिंदी में अवतल और उत्तल लेंस के बीच का अंतर, उत्तल लेंस और अवतल लेंस में क्या अंतर है, क्या आप उत्तल और अवतल लेंस में अंतर बता सकते है, अवतल लेंस और उत्तल लेंस में अंतर बताइये? अवतल लेंस और उत्तल लेंस के लिए अंतर।

उत्तल और अवतल लेंस में अंतर |Difference Between Convex And Concave Lens

Table of Contents

इनमें अंतर जानने से पहले हमको यह जान लेना चाहिए कि लेंस क्या होते हैं लेंस किसे कहते हैं,उत्तल लेंस क्या है, अवतल लेंस क्या है।

उत्तल लेंस और अवतल लेंस में अंतर
उत्तल लेंस और अवतल लेंस में अंतर |Difference Between Convex And Concave Lens

लेंस किसे कहते है | what is lens

दो गोलीय पृष्ठों से घिरे हुए किसी भी अपवर्तक माघ्यम को लेंस कहते है|

लेंस के कितने प्रकार के होते हैं?

लेंस मुख्य रूप से दो प्रकार के होते है।

  • उत्तल लेंस (convex lens)
  • अवतल लेंस (concave lens)

उत्तल लेंस किसे  कहते हैं?

जिस लेंस के किनारे का भाग पतला और बीच का भाग मोटा होता है उसे उत्तल लेंस (convex lens)उताल कहते है |

उत्तल लेंस के प्रकार

उत्तल लेंस कुल तीन प्रकार के होते हैं :-

  1. उभयोत्‍तल लेंस
  2. समतलोत्‍तल लेंस
  3. अवतलोत्‍तल लेंस

उत्तल लेंस की प्रकृति | nature of convex lens

  • उत्तल लेंस अभिसारी(converging) होती है।
  • उत्तल लेंस की फोकस दुरी धनात्मक होती है |

उत्तल लेंस के उपयोग | uses of convex lens

  • उत्तल लेंस का प्रयोग दूरदृष्टि दोष के निवारण के रूप में किया जाता है
  • उत्तल लेंस का प्रयोग दूरबीन में किया जाता है।
  • घड़ीसाज द्वारा घड़ी के छोटे कलपुर्जों को देखने में उत्तल लेंस का प्रयोग किया जाता है।
  • ज्योतिषी के द्वारा हस्तरेखा देखने में उत्तल लेंस का प्रयोग किया जाता है।
  • प्रयोगशाला में उत्तल लेंस का उपयोग किया जाता है।
  • सूक्ष्मदर्शी में उत्तल लेंस का प्रयोग किया जाता है।
  • वाहनों के बगल के शीशे (Side Mirror) में अवतल लेंस का प्रयोग किया जाता है।

अवतल लेंस किसे  कहते हैं?

अवतल लेंस भी एक गोलाकार लेंस होता है जो कि बीच से पतला तथा किनारों से मोटा होता है। अवतल लेंस अपने मे से गुजरने वाले सम्पूर्ण प्रकाश को और बिखरा या फैला देता है इसीलिए अवतल लेंस को अपसारी लेंस भी कहा जाता है। अवतल लेंस में वस्तु का प्रतिबिम्ब वास्तविक, आभासी तथा सीधा बनता है।

अवतल लेंस के प्रकार

अवतल लेंस भी तीन प्रकार का होता है –

  1. उभयावतल लेंस
  2. समतल अवतल लेंस
  3. उत्‍तावतल लेंस

अवतल लेंस का उपयोग (Use of Concave Lens)

  • निकट दृष्टिदोष को दूर करने के लिए चश्मे में अवतल लेंस का प्रयोग किया जाता है.
  • जो भी दूरबीन का प्रयोग किया जाता है उसमे अवतल लेंस का प्रयोग होता है. साथ ही उसमे उत्तल लेंस का भी उपयोग किया जाता है.
  • फ़्लैश लाइट्स (Flashlights) में भी अवतल लेंस का उपयोग किया जाता है.
  • स्ट्रीट लैंप से प्रकाश को फ़ैलाने के लिए Avtal lens प्रयोग में लाया जाता है.
  • वाहनों हेडलाइट्स तथा टॉर्च के उपरी लेंस अवतल होता है.
  • कैमरे में भी अवतल लेंस का उपयोग किया जाता है.
  • साथ ही लेज़र लाइट में भी इसका उपयोग होता है.

उत्तल लेंस और अवतल लेंस में अंतर |Difference between Convex Lens and Concave Lens

उत्तल लेंसअवतल लेंस
उत्तल लेंस बीच से मोटा और किनारों से पतला होता है। अवतल लेंस बीच में से पतला तथा किनारों से मोटा होता है।
उत्तल लेंस अक्षर को देखने में अक्षर बड़े दिखाई देते हैंअवतल लेंस अक्षर को देखने में अक्षर छोटे दिखाई देती है
उत्तल लेंस का प्रयोग दूरदृष्टि दोष के निवारण के रूप में किया जाता है।अवतल लेंस का प्रयोग निकटदृष्टि दोष के निवारण के रूप में किया जाता है।
उत्तल लेंस प्रकाश की किरणों को एक बिंदु पर केंद्रित करता हैअवतल लेंस प्रकाश की किरणों को बिखेर देता है
उत्तल लेंस में वस्तु का प्रतिबिम्ब वास्तविक, आभासी तथा उल्टा बनता है।अवतल लेंस में वस्तु का प्रतिबिम्ब वास्तविक, आभासी तथा सीधा बनता है।
उत्तल लेंस को अगर बाई तरफ हिलाया जाता है तो प्रतिबिंब दोनों तरफ गति करता है।अवतल लेंस को अगर बाई तरफ दिलाया जाता है तो प्रतिबिंब भी बाई तरफ गति कर करता है
उत्तल लेंस की फोकस दूरी धनात्मक होती है।अवतल लेंस की फोकस दूरी ऋणात्मक होती हैं।
कैमरा, प्रोजेक्टर, टेलिस्कोप आदि मेंइसका प्रयोग चश्मा, दूरबीन, दरवाजे के स्पाई होल इत्यादि में
उत्तल लेंस और अवतल लेंस में अंतर |Difference between Convex Lens and Concave Lens

अन्य महत्वपूर्ण अंतर

चाल और वेग में अंतर |वेग और चाल में अंतर |difference Between Speed and Velocity

अम्ल और क्षार में अंतर उदाहरण सहित |Difference Between Acid and Base With Example

सदिश राशि और अदिश राशि में अंतर उदाहारण सहित|Difference Between Vector and Scalar Quantity

गैस और वाष्प में अंतर देखे| वाष्प भाप और गैस में अंतर|Difference Between Gas and Steam in Hindi

लेंस से संबंधित कुछ परिभाषाए

1 प्रकाशिक केंद्र

2 मुख्य अक्ष

3 वक्रता केंद्र

4 वक्रता त्रिज्या

5 फोकस

7 फोकस दूरी

प्रकाशिक केंद्र

यह लेंस के अन्दर स्थित वह बिंदु होता है जिससे गुजरने पर प्रकाश की किरणों का विचलन नहीं होता है प्रकाशिक केंद्र कहते हैं

मुख्य अक्ष

लेंस के दोनों पृष्ठों के वक्रता केन्द्रों को मिलाने वाली सीधी रेखा को मुख्य अक्ष कहतें हैं|

वक्रता केंद्र

लेंस जिस गोले से काटकर बनाया जाता है उस गोले के केन्द्र को वक्रता केंद्र कहते हैं|

वक्रता त्रिज्या

लेंस जिस गोले से काटकर बनाया गया है उस गोले की त्रिज्या को लेंस की वक्रता त्रिज्या कहते हैं |

फोकस

मुख्य अक्ष के समान्तर आने वाली प्रकाश की किरणे लेंस से अपवर्तन के पश्चात मुख्य अक्ष के जिस बिंदु पर मिलती है उस बिंदु को ही फोकस कहते है |

फोकस दूरी

प्रकाशिक केंद्र से फोकस बिंदु तक की दुरी को फोकस दूरी कहते है |

लेंस से जुड़े परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्न

प्रश्न 1 – उत्तल लेंस की क्या पहचान है?

उत्तर – किसी भी वस्तु की पहचान उसकी बनावट या उसके गुण के आधार पर की जाती है. उत्तल लेंस की पहचान बनावट के आधार पर किनारों पर पतला और मध्य भाग में किनारों की तुलना में मोटा होता है. यही इसकी प्रमुख पहचान है.

प्रश्न 2 – उत्तल लेंस को अभिसारी लेंस और अवतल लेंस को अपसारी लेंस क्यों कहते हैं?

उत्तर – उत्तल लेंस से गुजरने वाली प्रकाश की किरणें एक केंद्र पर केन्द्रित हो जाती है इसलिए इसे अभिसारी लेंस कहते हैं. अवतल लेंस से गुजरने वाली प्रकाश की किरण फ़ैल जाती है जिसके कारण इसे अपसारी लेंस कहते हैं.

प्रश्न –3 लेंस की क्षमता क्या है?

उत्तर – लेंस के द्वारा प्रकाश की किरणों को मोड़ने की क्षमता को लेंस की क्षमता कहते हैं. लेंस जितना अधिक किरणों को मोड़ेगा उसकी क्षमता उतनी ही अधिक होगी.

प्रश्न 4 – एक व्यक्ति के चश्मे में उत्तल लेंस लगा है बताइए उस व्यक्ति की आंख में कौन सा दोष है?

उत्तर – आँखों में दूरदृष्टि दोष के निवारण के लिए चश्मे में उत्तल लेंस का उपयोग किया जाता है इसलिए यदि व्यक्ति के चश्मे में उत्तल लेंस लगा है तो कहा जा सकता है की उस व्यक्ति की आंख में दूरदृष्टि दोष है.

प्रश्न – 5- अभिसारी का मतलब क्या होता है?

उत्तर – अभिसारी का मतलब प्रकाश की करणों को एक केंद्र पर केन्द्रित होना

प्रश्न 6- निकट दृष्टि दोष के लिए कौन सा लेंस प्रयोग करते हैं?

उत्तर – अवतल लेंस का प्रयोग आँखों में निकटदृष्टि दोष के निवारण के रूप में किया जाता है. इस दोष में निकट की वस्तुएं नही दिखायी देता है|

प्रश्न 7- दृष्टि दोष को कैसे ठीक किया जा सकता है?

उत्तर – दृष्टि दोष के लिए उत्तल लेंस और अवतल लेंस का प्रयोग किया जाता है. निकट में अवतल और दूरदृष्टि में उत्तल लेंस का प्रयोग किया जाता है|

Leave a Comment

Your email address will not be published.