अम्ल और क्षार में अंतर उदाहरण सहित |Difference Between Acid and Base With Example

अम्ल और क्षार में अंतर|Difference Between Acid and Base| Acid and Base Difference in Hindi| अम्ल क्षार एवं लवण की परिभाषा उदाहरण सहित|अम्ल किसे कहते हैं?| क्षार किसे कहते हैं?

अम्ल और क्षार में अंतर :- आज topperhub.com आपके लिये रसायन विज्ञान के अंतर्गत आनेवाले वाला एक  महत्वपूर्ण टॉपिक अम्ल और क्षार में अंतर के बारे में जानकारी लेकर आए हुए हैं। आशा करता हुँ कि यह पोस्ट पढ़कर आप अम्ल और क्षार में अंतर को आप भलीभांति समझ पाएंगे

आज आपको हम इस पोस्ट के माध्यम से अम्ल और क्षार क्या है? अम्ल कितने प्रकार के होते हैं?
सबसे प्रबल अम्ल कौन सा है? अम्ल की पारिभाषा क्या है ? क्षार की परिभाषा क्या है? अम्ल और क्षार में अंतर क्या है और समानता क्या है | अम्ल और क्षार की अभिक्रिया से क्या बनता है? कौन से प्रबल अम्ल है और कौन से प्रबल क्षार है? चींटी में कौन सा अम्ल पाया जाता है? आमाशय में अम्ल का क्या कार्य है? टारटरिक एसिड किसका घातक है? अम्लीय मूलक क्या है? इमली में कौन सा अम्ल पाया जाता है? अम्लराज कैसे बनता है? उदासीनीकरण क्रिया क्या है? अम्ल और क्षार क्या है? उदासीनीकरण अभिक्रिया क्या है दो उदाहरण? सबसे प्रबल अम्ल कौन सा है? ऑरेंज में कौन सा एसिड होता है? टार्टरिक अम्ल का सूत्र क्या होता है? इन सारे सवालों का जवाब आपको आसान भाषा में प्रदान करेगे।

अम्ल तथा क्षार में अंतर जानने से पहले यह जानना आवश्यक है कि अम्ल किसे कहते हैं? क्षार किसे कहते हैं? अम्ल की परिभाषा तथा क्षार की परिभाषा ,अम्ल के गुण,क्षार के गुण।,  अम्ल की पहचान कैसे करते हैं? क्षार की पहचान कैसे करते हैं? इन सब प्रश्नों के जवाब जानने के पश्चात हमें अम्ल तथा क्षार में अंतर समझना आसान हो जाएगा।

अम्ल और क्षार में अंतर| (Difference Between Acid and Base)

अम्ल किसे कहते हैं?

अम्ल की परिभाषा अलग- अलग वैज्ञानिकों ने अलग-अलग दिया है। तो आइये जानते है अम्ल किसे कहते हैं|

आरहीनियस के अनुसार अम्ल

ऐसे पदार्थ जो जल में घुलने के पश्चात  हाइड्रोजन आयन (H+) देते हैं उस पदार्थ को अम्ल कहा जाता है। अम्ल का PH मान 7 से कम होता हैं।

अम्ल के उदाहरण :- CH3COOH, HCL, HNO3,  HNO3 H+ + NO3- आदि।

 लॉरी एवं ब्रोन्स्टेंड के अनुसार अम्ल

अम्ल वे पदार्थ है जो किसी दूसरे पदार्थ को प्रोटान दे सकते है।

उदाहरण :-HCl को जल में घोलने पर यह H2O को प्रोटोन (H+) प्रदान करता है अतः यह अम्ल है।

HCl + H2O =H3O+ + Cl

अम्ल के प्रकार | types of acid

अम्ल दो प्रकार के होते है |

  1. प्रबल अम्ल
  2. दुर्बल अम्ल

प्रबल अम्ल

(1) सल्फ्यूरिक अम्ल ― H2SO4
(2) हाइड्रो क्लोरिक अम्ल ― HCl
(3) नाइट्रिक अम्ल ― HNO3

दुर्बल अम्ल

(1) हाइड्रोजन सल्फाइड अम्ल ― H2S
(2) हाइड्रोजन साइनाइड अम्ल ― HCN
(3) एसिटिक एसिड ― CH3COOH

अम्लों के गुण | properties of acid

  1. अम्ल का स्वाद खट्टा होता है|
  2. प्रबल अम्ल अपने प्रभाव से लकड़ी कपड़ा कागज त्वचा आदि को गला का नष्ट कर देते है।
  3. अम्ल धातुओं के साथ क्रिया करके हाइड्रोजन निकालते हैं।
  4. अम्ल नीले लिटमस कागज को लाल कर देते है।
  5. अम्ल क्षारों से क्रिया करके उनके प्रभाव को नष्ट कर देते हैं तथा लवण और जल बनाते हैं

क्षार किसे कहते हैं?

ऐसे पदार्थ जो जलीय विलयन में घुलने के पश्चात हाइड्रा ऑक्साइड आयन (OH-) देते हैं उस पदार्थ को क्षार कहा जाता है। ब्रान्स्टेड लारी के नियमानुसार “क्षार ऐसे पदार्थ होते हैं जो किसी दूसरे पदार्थ से प्रोटान को ग्रहण कर लेते हैं।” लुईस के इलेक्ट्रॉनिक सिद्धांत के नियमानुसार “क्षार ऐसे पदार्थ होते हैं जिनमें इलेक्ट्रॉन के जोड़े को स्वतंत्र रूप से प्रदान करने की क्षमता होती है।”
क्षार के उदाहरण :- NaOH, KOH, आदि।

क्षार के प्रकार |types of base

(1) प्रबल क्षार

(1) सोडियम हाइड्राक्साइड ― NaOH
(2) पोटैशियम हाइड्राक्साइड ― KOH

(2) दुर्बल क्षार

(1) अमोनियम हाइड्राक्साइड ― NH4OH

क्षारों के गुण |properties of base

  1. क्षार स्वाद तीखा और जलन उत्पन्न करने वाला होता है।
  2.  प्रबल क्षार भी प्रबल अम्लों की भांति संक्षारक होते हैं अर्थात लकड़ी कागज कपड़ा त्वचा आदि को नष्ट करने की प्रवृत्ति रखते हैं लेकिन इनकी संक्षारक प्रवृत्ति अम्लों की तुलना में कम होती है।
  3. जल में विलय होते हैं।
  4. क्षार साबुन जैसे चिकने होते हैं।
  5. क्षार लाल लिटमस पेपर को नीला कर देते हैं।
  6. क्षार तेलों व वसाओं के साथ अभिक्रिया करके ग्लिसरॉल व साबुन बनाते हैं

अम्ल की पहचान कैसे करते हैं?| क्षार की पहचान कैसे करते हैं?

अम्ल और क्षार की पहचान करने के लिए लाइकेन का बना एक लिटमस पेपर आता है जो दो रंगों में होता है लाल तथा नीला। किसी भी विलियन को पहचानने के लिए कि वह अम्ल है या क्षार है तो उस विलियन में लिटमस पेपर को डुबाया जाता है यदि नीला लिटमस पेपर किसी विलियन में डुबाने के पश्चात लाल हो जाता है तो वह विलियन अम्ल होता है तथा किसी भी विलियन में लाल लिटमस पेपर को डुबाने के पश्चात नीला हो जाता है तो वह विलियन क्षार होता है।

अम्ल और क्षार में अंतर | Difference Between Acid and Base

अम्ल (Acid)
क्षार (Base)
अम्ल जलीय विलयन में घुलने के पश्चात हाइड्रोजन आयन (H+) देते हैंयह हाइड्राक्साइड के ऋणायन देते है।
अम्ल का PH मान 7 से कम होता हैं।क्षार का PH मान 7 से अधिक होता हैं।
अम्ल का स्वाद खट्टा होता है।क्षार का स्वाद थोड़ा कसैला होता है।
धातुओं के साथ क्रिया करके हाइड्रोजन गैस देते है।हाइड्रोजन गैस नही देते।
अम्ल नीले लिटमस पेपर को लाल कर देता है।क्षार लाल लिटमस पेपर को नीला कर देता है।
ये प्रोटॉन दाता कहलाते है।
प्रोटॉन ग्राही कहलाते है।

अम्ल और क्षार संबंधित कुछ प्रश्नों के उत्तर

सबसे प्रबल अम्ल कौन सा है?

सबसे प्रबल अम्ल सुपरसाइड फ्लोरोएंटिमोनिक एसिड (fluoroantimonic acid), HSbF6 है। इससे ज्यादा प्रबल कोई अम्ल नही हैं।

सबसे प्रबल क्षार कौन सा है?

सोडियम हाइड्रॉक्साइड

अम्लराज कैसे बनता है?

HCl और HNO3 के 3:1 अनुपातिक मिश्रण से अम्लराज बनता है|

इमली में कौन सा अम्ल पाया जाता है?

इमली में टारटरिक एसिड पाया जाता है।

आमाशय में अम्ल का क्या कार्य है?

अमाशय में हाइड्रोक्लोरिक अम्ल पाया जाता है जो पेट के अंदर हानिकारक जीवाणुओं को मारने का काम करता है।

Apple\सेव में कौन सा अम्ल पाया जाता है?

सेब में मैलिक एसिड पाया जाता है।

चींटी में कौन सा अम्ल पाया जाता है?

चींटी में फॉर्मिक अम्ल एक पाया जाता है। यह लाल चींटियों, मधुमक्खी, बिच्छू के डंकों में पाया जाता है। इनके काटने या डंक मारने पर थोड़ा अम्ल शरीर में प्रवेश कर जाता है, जिससे वह स्थान पर सूजन आ जाटी है और दर्द होता है।

2 thoughts on “अम्ल और क्षार में अंतर उदाहरण सहित |Difference Between Acid and Base With Example”

Leave a Comment

Your email address will not be published.